VoIP तकनीक यानि कम्प्यूटर से मोबाइल पर बात

इस तकनीक के विषय में हम अपनी पूर्ववर्ती पोस्ट कम्प्यूटर से टेलिफोन पर बात करें में जानकारी ले चुके है। इस पोस्ट में मैंने इस तकनीक के बारे में थोड़ा बताया था। लेकिन आइये इस पोस्ट में इसके व्यावहारिक उपयोग के बारे में चर्चा करते हैं।

यूं तो VoIP क्षेत्र बहुत विस्तृत है। इसमें अनेक तकनीकें आकर स‍माहित हो रही हैं, जिससे दूरसंचार के नये आयाम खुल रहे हैं, पर वैश्वीकरण के इस युग में भी अभी भारत में कुछ पाबंदियों और मूलभूत सुविधाओं के अभाव में यह तकनीक अभी अधिक प्रचलित नहीं हुई है। लेकिन फिर भी यूरोप और अमेरिका में (सूचना प्रोद्योगिकी के क्षेत्र में) बारिश हो और यहां बौछारें भी न आएं इसकी संभावना नगण्य है।

आजकल स्मार्टफोन और तेज गति का इंटरनेट कनेक्शन बहुत लोग प्रयोग करने लगे हैं, वर्तमान में VoIP का लाभ भी यही वर्ग सबसे अधिक उठा सकेगा।

तो मित्रों एक सॉफ्टवेयर का नाम है- Viber इसे आप VoIP तकनीक के जरिये 3 जी समर्थित किसी भी मोबाइल फोन में (जी हां, किसी भी मोबाइल फोन) पर सम्पर्क कर सकते हैं, फिर चाहे वह एण्ड्रॉइड हो, एप्पल हो, विण्डोज हो, बाडा हो और यहां तक कि नोकिया OS वाला मोबाइल फोन के लिए भी सॉफ्टवेयर उपलब्ध है।

ऐसे में एक परिदृष्य के बारे में सोचें, अगर ठीक लगे तो इस्तेमाल भी करें।

मेरे एक मित्र (मानाकि उसका नाम रामलाल भाटिया है) के पास एक स्मार्टफोन है, जिस पर कि यह (या ऐसा कोई दूसरा सॉफ्टवेयर) इंस्टॉल है। मेरे पास भी ऐसा ही एक सेटअप है, तो मैं अपने फोन से उस मित्र से बात कर सकूंगा। लेकिन एक मिनट के लिए मान भी लिया कि मेरे पास स्मार्टफोन न भी हो, लेकिन मेरे किसी दूसरे मित्र (चंदूलाल मारवाड़ी) के पास तो होगा ना ?

मैंने अपने मित्र (चंदूलाल) के फोन में अपना सिमकार्ड लगाया और उस फोन (इंस्ट्रुमेंट) पर यह सॉफ्टवेयर इंस्टॉल कर दिया। उसमें अपना नम्बर ऐंटर करके sms के मार्फत आए कोड को दर्ज करके इसे एक्टिवेट भी कर लिया। अब चंदूलाल मारवाड़ी को उसका फोन सॉफ्टवेयर हटाकर वापस कर दिया।

अब अपने डेस्कटॉप पर भी यह सॉफ्टवेयर इंस्टॉल कर लिया। डेस्कटॉप पर इंस्टॉलेशन के बाद यह सॉफ्टवेयर मुझसे पूछेगा कि क्या आपने इसे फोन पर भी इंस्टॉल किया है, मैंने हां पर टैप किया और उसका नम्बर (अपने फोन का) इसमें भी भर दिया। अब मेरे नम्बर पर एक sms भेजा जायेगा, जिसमें कोड होगा। वह कोड मोबाइल में देखकर मैंने अपने पीसी में एंटर कर दिया। और बस हो गया.... ।

अब मैं अपने डेस्कटॉप से अपने दोस्त रामलाल भाटिया को इंटरनेट के जरिये उसके मोबाइल पर कॉल कर सकने में सक्षम हूँ।

कैसा लगा ? जरूर बताइये।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिप्पणी से मुझे कुछ बेहतर लिखने की प्रेरणा व हिम्मत मिलेगी, यकीन मानिए मैं चाहता हूं कि आप मेरे लेखन में कमी भी निकालें और मार्गदर्शन भी करें। कृपया अपनी राय यहां जरूर अंकित करें।

अभी तक इतनी बार यह देखा गया